अनुपम खेर | 100 रूपये चुराकर चल दिए थे एक्टर बनने

जन्मदिन विशेष

अनुपम खेर आज 63 साल के हो चुके हैं। 7 मार्च 1955 को शिमला में जन्मे अनुपम के पिता क्लर्क थे हालांकि वे उनके पदचिन्हों पर नहीं चलना चाहते थे। इसलिए शिमला के डी.ए.वी. स्कूल से पढ़े अनुपम के सपने उन्हें मुंबई ले आए, लेकिन सफलता इतनी आसान नहीं थी।

कम ही लोग जानते हैं कि अनुपम अपने स्ट्रगलिंग डेज में मुंबई के रेलवे स्टेशन पर ही सो जाते थे। यहां उन्होंने कई रातें बिताई हैं।

अनुपम खेर ने एक टीवी शो में अपने स्‍ट्रगल की कहानी भी सुनाई। कि कैसे एक गरीब परिवार में पैदा होने के बाद वह हॉलीवुड तक पहुंचे। उन्‍होंने यह भी बताया कि बचपन में वह तुतलाते थे। ‘हम आपके हैं कौन’ की शूटिंग के दौरान उन्‍हें लकवा मार गया था, लेकिन उन्‍होंने शूटिंग नहीं रोकी थी।

अनुपम खेर ने बताया कि एक बार वह अनिल कपूर के घर खाना खाने गए थे। तब अनिल की पत्‍नी ने बताया कि उनकी एक आंख की पलक झपक नहीं रही है। इसके बाद वह घर आ गए और सुबह ब्रश करने लगे तो उनके मुंह से पानी आ रहा था। उन्‍हें तब भी समझ नहीं आया फिर उन्‍होंने यश चोपड़ा से कहा कि उनके चेहरे का एक हिस्‍सा काम नहीं कर रहा है।

चोपड़ा ने उन्‍हें डॉक्‍टर के पास जाने की सलाह दी। यश चोपड़ा की सलाह पर अनुपम खेर जब डॉक्‍टर से मिले तो उन्‍होंने कहा कि आपको लकवा मार गया है और आप सारे काम बंद कर 2 महीने आराम करें।

अनुपम खेर ने बताया कि वह डॉक्‍टर के पास से निकलकर सीधे ‘हम आपके हैं कौन’ की शूटिंग पर पहुंचे और उन्‍होंने फिल्‍म में शोले की एक्टिंग की थी, जिससे दर्शकों को पता ही नहीं चले कि उनके चेहरे पर लकवा मार गया है।

अनुपम खेर ने बताया कि बचपन में एक बार उन्‍हें चोट लगी थी, जिससे उनकी जीभ में जख्‍म हो गया था। इसके बाद वह ‘क’ नहीं बोल पाते थे। इसी दौरान उन्‍हें कविता कपूर नाम की लड़की से प्‍यार हो गया था। उस लड़की ने शर्त रख दी थी कि अगर वह उनका नाम सही से बोलकर आई लव यू कह पाए तो वह उनका प्रस्‍ताव स्‍वीकार कर लेंगी। लेकिन अनुपम कविता कपूर आई लव यू नहीं बोल पाए थे।

झुंझला कर उन्‍होंने कह दिया था ‘तविता तपूर आई हेट यू।’ अनुपम खेर ने अपने एक्‍टर बनने की कहानी भी सुनाई। वह मां के मंदिर से सौ रुपए चुरा कर एक्टिंग में दाखिले के लिए पंजाब गए थे। जब वह मुंबई गए तो वहां भी काफी संघर्ष भरे दिन बीते। एक धोबन का कमरा किराए पर लेना पड़ा था। और वह भी चार और लोगों के साथ मिल कर। छोटे से कमरे में पांच लोग सोते थे।

अनुपम की डेब्यू फिल्म 1984 में आई ‘सारांश’ मानी जाती है इस फिल्म में 28 साल के अनुपम ने एक मिडिल क्लास रिटायर बूढ़े शख्स का किरदार निभाया था। लेकिन इससे पहले भी वे दो फिल्में 1971 में ‘टाइगर सिक्सटीन’ और 1982 में फिल्म ‘आगमन’ में काम कर चुके थे।

बॉलीवुड के साथ-साथ वो अमेरिकन, ब्रिटिश और चाइनीज फिल्मों में भी काम कर चुके हैं। उन्होंने ज्यादातर कॉमेडी फिल्में की है लेकिन उनके नेगेटिव किरदार को लोगों ने ज्यादा पसंद किया है।

अनुपम खेर पहले एक्टर हैं जिन्होंने कॉमेडी रोल के लिए 5 बार फिल्मफेयर अवार्ड जीता है और उन्होंने बैक टू बैक 8 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड जीते हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2004 में पद्मश्री और 2006 में पद्मभूषण से सम्मानित किया।

अनुपम की पहली शादी मधुमालती के साथ हुई थी लेकिन ये नाकामयाब रही। बाद में 1985 में उन्होंने किरन खेर से दूसरी शादी कर ली। ये किरण खेर की भी दूसरी शादी थी। दोनों का बेटा सिकंदर खेर, किरण खेर के पहले पति से जन्मा है, वे अनुपम खेर के सौतेले बेटे हैं।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमेंTwitterपर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like