अनूप जलोटा का यू टर्न, पहले तो पाकिस्तान ना जाने की कसम खाई, फिर चले भी गए

अनूप जलोटा का यू टर्न, पहले तो पाकिस्तान ना जाने की कसम खाई, फिर चले भी गए , भारतीय गायक अनूप जलोटा ने हाल ही में पाकिस्तान में अपनी प्रस्तुति दी हैं। अनूप ने पाकिस्तान में जाकर उर्दू में पवित्र भगवद् गीता सुनाई। दरअसल उन्होंने पाकिस्तान में जाकर कभी ना गाने की कसम खाई थी। अनूप ने एक साल पहले कहा था कि पाकिस्तान भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल आतंकवादियों को शह देता है। ऐसे में वो उस मुल्क में जाकर वहां के निवासियों का मनोरंजन नहीं करेंगे।

बता दें कि अनूप जलोटा ने माना कि उन्होंने पाकिस्तान में कई गज़ल शो अस्वीकार कर दिया है लेकिन भगवत गीता का पाठ इसलिए किया ताकि विश्व शांति में कुछ योगदान कर सके। उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान के प्रत्येक शहर में जाकर प्रस्तुति देने के लिए तैयार हूं अगर इससे हमारे मूल्यों को उजागर होता है। जलोटा ने इस सप्ताह की शुरुआत में सिंध में सतराम आश्रम में प्रदर्शन किया था।

इसी हफ्ते उन्होंने पाकिस्तान में जाकर प्रस्तुति दी। क्योंकि उनके मुताबिक पवित्र भगवद् गीता के जरिए विश्व को कुरुक्षेत्र में बदलने से रोकने के लिए उनका यह प्रयास है। अनूप ने कहा कि “भगवद गीता जीवन का उत्तर है, मुझे लगता है कि मूल्यों का प्रचार करना आवश्यक है। एक संगीतकार के रूप में शांति, सामंजस्य और प्रेम का संदेश देना एक बड़ा उद्देश्य है।”

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like